छत्तीसगढ़जांजगीर-चांपाबिलासपुरराजनीतिरायपुर

शासकीय भूमि पर अवैध पत्थर खदान का संचालन, शासन को हो रहा लाखो के राजस्व का नुकसान, फिर भी अफसरों ने साधी चुप्पी

0 नगर पंचायत खरौद के शुकुलपारा का मामला,जिम्मेदार विभाग अनजान..

जांजगीर चांपा। नगर पंचायत खरौद के शुकुलपारा में शासकीय भूमि पर अवैध पत्थर खदान बनाकर शासन को लाखो रुपए के राजस्व नुकसान पहुँचाने का मामला प्रकाश में आया हैं। नगर पंचायत खरौद के भागवत केशरवानी एवं उसके बेटे सागर केशरवानी द्वारा अपनी निजी भूमि के साथ आसपास स्थित सरकारी भूमि को खोदकर पत्थर खनन किया गया। जिससे शासन को लाखो रुपए के राजस्व का नुकसान हुआ हैं। इसके बाद भी जिम्मेदार विभाग के अधिकारी मामले पर चुप्पी साधे बैठे हैं।

मिली जानकारी के अनुसार खरौद निवासी भागवत केशरवानी की निजी भूमि खसरा नंबर 752, रकबा 0.6960 हे. व 746, 745, 744, 747, 729/2 सिंचाई विभाग के विश्राम गृह मेन रोड के पीछे स्थित है। इस भूमि में भागवत केशरवानी एवं उसके बेटे सागर केशरवानी द्वारा अवैध पत्थर खदान का संचालन विगत लंबे वर्षो से किया जा रहा है। पत्थर खदान में नियमों को ताक पर रखकर लगातार अवैध खनन किया जा रहा है। निजी भूमि में अवैध खनन करने के साथ ही उक्त भूमि से लगी हुई शासकीय भूमि खसरा नंबर 750/1, 750/2, 751/1 एवं 751/2 कुल रकबा लगभग 3 एकड़ पर अवैध कब्जा कर खनन किया गया है। जिससे शासन को लाखो रुपए राजस्व का नुकसान पहुंचा है। भागवत केशरवानी द्वारा खोदे गए पत्थर खदानों को बिना पाटे छोड़ दिया गया है। खोदी गई पत्थर खदाने गहरी है जिसमे पानी भरा हुआ हैं। जिसमे आए दिन मवेशी गिरकर मर रहे हैं।पत्थर खदानो को समय रहते नही भरने से बड़ी दुर्घटना की आशंका बनी हुई हैं। नगर के लोगो द्वारा अनुपयोगी खदानों को पटाने की मांग लगातार की जा रही हैं लेकिन जिम्मेदार अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं।

देखिए वीडियो…

शासकीय भूमि पर अवैध खनन गैरकानूनी

शासकीय भूमि पर अवैध खनन करना गैरकानूनी हैं। यदि ऐसा हैं तो हल्का पटवारी को मौका जांच के लिए भेजा जाएगा। गलत पाए जाने पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

-विभोर यादव, नायब तहसीलदार राहौद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *