छत्तीसगढ़जांजगीर-चांपा

सड़क पर बेहोश पड़े बुजुर्ग को अस्पताल पहुंचाकर पत्रकार ने पेश की मानवता की मिशाल, 112 टीम की भूमिका रही सराहनीय

जांजगीर-चांपा। भगवान ने सृष्टि में इंसान की बहुत ही सुंदर रचना की है, जिसे बुद्धि के रूप में ऐसी शक्ति मिली है। इस शक्ति का प्रयोग कर इंसान बड़ा से बड़ा कार्य कर सकता है। लेकिन इसी शक्ति के नशे में इंसान इतना मदहोश हो गया है कि वह इंसानियत भी भूल बैठा है। हालांकि ऐसे भी शख्स है, जो इंसानियत दिखाने के मौके को भगवान का दिया हुआ प्रसाद समझते हैं।

कुछ इसी तरह की इंसानियत चांपा के एक पत्रकार प्रकाश रात्रे और डायल 112 के कर्मचारी शंकर यादव ने भी दिखाई। प्रकाश रात्रे आज दोपहर जांजगीर की ओर आ रहा था कि एनएच 49 बनारी गांव के पास एक बजुर्ग अचानक गश खाकर सड़क पर गिर पड़ा और बेहोशी की हालत पर वहीं पड़ा रहा। लोग उसे देखकर भी अनदेखा करते हुए किनारे से निकल जा रहे थे। तभी प्रकाश रात्रे की नजर उस पड़ी, तो उसने अपनी बाइक सड़क किनारे रखकर मदद के लिए बुजुर्ग के पास पहुंचा। उसने बुजुर्ग को सहारा देकर सड़क किनारे छांव में बैठाया और तत्काल डॉयल 112 को कॉल किया।

कुछ ही देर में डॉयल 112 वाहन वहां पहुंचा और वाहन पर डॉयल 112 के कर्मचारी शंकर यादव ने सड़क किनारे बेहोशी की हालत में बैठे बुजुर्ग को पहले पानी पिलाया, फिर उसे अपने गोद में उठाकर वाहन में बैठाया और जिला अस्पताल पहुंचाया। इतना ही नहीं, शंकर यादव ने बुजुर्ग को फिर अपने गोद में उठाकर जिला अस्पताल के वार्ड में भर्ती कराया। इस बीच बनारी के पास लोगों की भीड़ लग गई थी। सभी ने कर्मचारी शंकर यादव की तारीफ की। बताया जा रहा है बुजुर्ग का शूगर लो हो गया था, जिसके चलते वह बेहोश हो गया था। उसका उपचार जिला अस्पताल जांजगीर में चल रहा है। बुजुर्ग की स्थिति सामान्य होने के बाद ही उसकी पूरी जानकारी मिल पाएगी कि उसका नाम क्या है और वह कहां जा रहा था। बहरहाल, इस तरह की मानवता से समाज को नई प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने ने लोगों से भी अपील की है कि दूसरों को तकलीफ में देखकर मदद के लिए हाथ अवश्य बढ़ाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *