छत्तीसगढ़जांजगीर-चांपा

सड़क पर नवजात को जन्म देकर अचेत पड़ी मानसिक कमजोर महिला और शिशु को अस्पताल पहुंचाकर पत्रकार और मितानिन ने पेश की मानवता की मिशाल

जांजगीर-चांपा। दूसरों को तकलीफ में देखकर यदि किसी के मन में पीड़ा हो और वह अपने सामर्थ्य अनुसार उसकी मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाए तो निश्चित ही मानवता सार्थक हो जाती है। कुछ इसी तरह का वाक्या आज सुबह चांपा शहर में हुआ। जब मानसिक रूप से कमजोर महिला एक नवजात को जन्म देकर सड़क पर पड़ी थी। नवजात के रोने की आवाज सुनकर एक पत्रकार ने मितानिन और एक अन्य महिला के सहयोग से जच्चा और बच्चा को बीडीएम अस्पताल पहुंचा कर मानवता की मिशाल पेश की।

चांपा के वार्ड नंबर 25 मंझली तालाब के पास एक महिला नवजात को जन्म देकर अचेत पड़ी हुई थी। वहीं नवजात के रोने की आवाज आसपास में गूंज रही थी। तभी मार्निंग वाक से लौट रहे पत्रकार राजेन्द्र जायसवाल ने वहां जाकर देखा तो वहां नवजात बिलख रहा था और उसकी मां अचेत पड़ी हुई थी। राजेन्द्र जायसवाल के मुताबिक उसने तत्काल मितानिन सीता यादव व एक सहयोगी महिला यास्मीन बेगम को वहां बुलाया। फिर 108 की टीम को कॉल किया। लेकिन 108 टीम के आने में विलंब लग रहा था। ऐसे में तत्काल ऑटो रिक्शा बुलाकर मितानिन व एक अन्य महिला की मदद से जच्चा बच्चा को स्थानीय बिसाहू दास महंत हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया।

अस्पताल में चेकअप के बाद जच्चा बच्चा सकुशल बताया गया। इसके बाद राजेंद्र जायसवाल ने फोन के माध्यम किशोर न्याय बोर्ड जांजगीर सुरेश जायसवाल को फोन के माध्यम से बताया कि एक महिला ने नवाजात शिशु को जन्म दिया है और उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। तब चाइल्ड लाइन जांजगीर की टीम तत्काल बीडीएम हॉस्पिटल पहुंची और नवजात शिशु एवं महिला को देखा। उन्होंने जच्चा व बच्चा की उचित देखभाल के लिए उन्हें जिला अस्पताल जांजगीर रेफर किया गया। इस तरह की मानवता से समाज को नई प्रेरणा मिलेती है और लोग दूसरों की मदद के लिए तत्पर रहते हैं। उन्होंने लोगों से भी अपील की है कि दूसरों को तकलीफ में देखकर मदद के लिए हाथ अवश्य बढ़ाएं।


पुलिस ने जच्चा बच्चा का जाना कुशलक्षेम
इधर, इस पूरे मामले की जानकारी चांपा पुलिस थाना पहुंची। तब डयूटी में तैनात प्रआर. गणेश कौशिक, माखन साहू, प्रआर. सरस्वती जांगड़े, आर. शकुंतला मौके पर पहुंचे। लेकिन तब तक जच्चा व बच्चा आटो में सवार होकर अस्पताल के लिए रवाना हो गए थे। चांपा पुलिस की टीम ने अस्पताल जाकर जच्चा बच्चा का कुशलक्षेम जाना और अस्पताल प्रबंधन से मामले की जनकारी ली। पुलिस की टीम ने अस्पताल प्रबंधन से जच्चा बच्चा का उचित उपचार करने की बात कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *