छत्तीसगढ़सक्ती

पूर्व माध्यमिक शाला लिमगांव के चार शिक्षको में एक भी शिक्षक साढ़े दस बजे तक स्कूल नहीं पहुंचे, बिना शिक्षक के हुआ प्रार्थना

मालखरौदा।  विकासखंड मालखरौदा अंतर्गत आने वाले पूर्व माध्यमिक विद्यालय लिमगांव का मामला है जहां पर 6 मार्च बुधवार को सुबह 10:30 तक एक भी शिक्षक स्कूल नहीं पहुंचे थे जिसके कारण उसके लिए बच्चों अपने बिना शिक्षकों के ही प्रार्थना करके क्लास रूम में बैठे बता दे वैसे इस स्कूल में चार शिक्षक पदस्थ पदस्थ है लेकिन इनकी मनमानी ऐसी है कि प्रार्थना के समय भी स्कूल नहीं पहुंच रहे हैं जबकि एक दिन वेतन नहीं मिलता तो वह हल्ला मचाना शुरू कर देते हैं वैसे स्कूल 10:00 बजे से शुरू हो जाना ऐसे में क्षेत्र की सरकारी स्कूलों में पढ़ाई की व्यवस्था का समझा जा सकता है ब्लॉक शिक्षा अधिकारी बदल गए लेकिन लगता है पुराने शिक्षा अधिकारी होने के कारण उनके दर इन शिक्षकों में नहीं रह गया है ऐसे में क्षेत्र की मीडिया की टीम जब स्कूली बच्चों से बात किया तो बच्चो द्वारा बताया गया कि हम लोग बिना शिक्षक के प्रार्थना किए हैं साढ़े दस बजे तक एक भी शिक्षक स्कूल नही पहुंचे थे अब देखते हैं खबर प्रकाशन होने पर जिम्मेदार शिक्षको पर किया कार्यवाही करते हैं उच्च अधिकारी या केवल नोटिस देकर ही मामला रफादफा कर दिया जाता है।

ब्लॉक शिक्षा अधिकारी एमएल प्रधान मालखरौदा का कहना है जांच के लिए अधिकारियों को भेजा गया है 1 घंटे बाद रिपोर्ट आपको बता दिया जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *