छत्तीसगढ़सक्ती

सक्ती एसपी ने क्राइम मीटिंग में थाना व चौकी प्रभारियों को दिए आमजनों के साथ मित्रवत व्यवहार करने के निर्देश, विभिन्न पेंंडिंग अपराधों की हुई समीक्षा, दिए गए कई महत्वपूर्ण निर्देश

सक्ती। मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने आज जिले के कानून व्यवस्था की बैठक लेकर समीक्षा की। उन्होंने बैठक में सख्त निर्देश देते हुए कहा कि पुलिस की छवि आमजनों में साफ सुथरी व ऊपर से कठोर एवं अंदर से नर्म होना चाहिए। अपराधियों के मन में पुलिस का डर होना चाहिए। पुलिस को अपने कर्तव्य के प्रति ईमानदार एवं अनुशासित होकर कार्य करने करने की जरूरत है। साथ ही आमजन में पुलिस की कार्यशैली के प्रति विश्वास दिखाई दें।

इसी कड़ी में सक्ती एसपी सुश्री अंकित शर्मा जिले के सभी थाना व चौकी प्रभारियों की बैठक ली। बैठक के दौरान सभी थाना प्रभारी, चौकी प्रभारियो को सख्त निर्देश दिया गया कि सामाजिक बुराई जैसे जुआ, अवैध शराब, नशीले पदार्थ की बिक्री करने वालों पर प्रभावी कार्यवाही की जाए। प्रार्थी व पीड़ित द्वारा थाना रिपोर्ट व शिकायत दर्ज कराने के लिए आने पर उनकी बात शालीनतापूर्वक सुन कर पुलिस कार्यवाही से संतुष्ट किया जाए। संपत्ति संबंधी अपराधों में संलिप्ति आदतन अपराधियों के विरूद्ध निगरानी बदमाश फाईल, आदतन मारपीट, जुआ, शराब, नशीले पदार्थ बिक्री करने वाले अपराधियों के खिलाफ गुण्डा बदमाश फाईल खोलने बाबत् निर्देशित किया जाए। क्राईम मीटिंग दौरान जिला के सभी थानों के लंबित अपराधों की समीक्षा की गई तथा समयावधि में निकाल कर न्यायालय पेश करने के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया। महिला संबंधित अपराध व शिकायत को गंभीरता से लेने एवं वरिष्ठ कार्यालय द्वारा जारी दिशा निर्देश का पालन करते हुए विधि अनुसार कार्यवाही के लिए निर्देशित किया गया। आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर शांतिपूर्ण निर्वाचन के लिए अपराधिक तत्वों के खिलाफ प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत् प्रभावी कार्यवाही करते हुए भारी रकम से बाउण्ड ओवर करने के लिए निर्देशित किया गया। थाना, चौकी क्षेत्र के ग्रामों में सामुदायिक पुलिसिंग के तहत् ज्याद से ज्यादा ‘‘चलित थाना (संवाद)’’ का आयोजन कर लोगों से मिलकर उनके समस्या को सुनना एवं त्वरित निराकरण करने के लिए निर्देशित किया, ताकि आमजन में पुलिस के प्रति जो गलत अवधारण है उसे समाप्त कर उनके मन में पुलिस प्रति विश्वास लाया जाए। थाना, चौकी द्वारा आयोजित  ‘‘चलित थाना (संवाद)’’  का फोटो, विडियोग्राफी कर थाना में रजिस्टर संधारण कर रिकॉर्ड दुरूस्त करने के लिए निर्देशित किया गया। जिला में व्हीआईपी आगमन के दौरान उनके सुरक्षा, ड्यूटी के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया। जिला के अधीनस्थ समस्त मातहत अधिकारी, कर्मचारियों को अनुशासित, ईमानदार रहकर बिना पक्षपात के कर्तव्य का निर्वाहन करने के लिए निर्देशित किया गया तथा आमजनों से मित्रवत व्यवहार करें, जिससे पुलिस के प्रति उनका विश्वास बढ़े एवं पुलिस एवं आमजनों के बीच ‘‘विश्वास’ सेतु का कार्य करेगा। सड़क दुर्घटना को कम करने के लिए अति संवेदनशील इलाकों में यातायात मित्र बनाने पर विशेष ध्यान देने समस्त थाना , चौकी प्रभारी को निर्देशित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *