छत्तीसगढ़जांजगीर-चांपाराजनीतिसक्ती

विधानसभा चुनाव: अविभाजित जांजगीर चांपा की छह सीटों पर कौन करेगा फतह और किसकी होगी शिकस्त, पढ़िए चौथा स्तंभ न्यूज का सटीक एग्जिट पोल

जांजगीर-चांपा। विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होने के बाद सबके मन में यही सवाल है कि आखिर छत्तीसगढ़ में किसकी सरकार बनेगी और कौन विपक्ष में बैठेगा। अमूमन हर सीट के लिए गुणा-भाग चल रहा है और लोग अपने-अपने तरह से संबंधित सीट पर भविष्यवाणी भी कर रहे हैं। भाजपा और कांग्रेस भी पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने का दावा कर रहीं है, लेकिन इन सभी सवालों का जवाब लोगों को 3 दिसंबर मतगणना के बाद ही मिल सकेगा।

देखिए चौथा स्तंभ वीडियो न्यूज़…

चौथा स्तंभ न्यूज ने भी अविभाजित जांजगीर चांपा जिले की सभी छह सीटों के लिए सर्वे के बाद एग्जिट पोल निकाला है। इसके मुताबिक हाईप्रोफाइल सीट जांजगीर चांपा में इस बार कांग्रेस अपना परचम लहरा सकती है। वैसे भी इस सीट की तासीर रहीं है कि कोई भी विधायक दोबारा चुनाव नहीं जीता है। इस लिहाज से भी इस सीट पर कांग्रेस फतह कर सकती है। हालांकि इस सीट में भाजपा के नारायण चंदेल और कांग्रेस के व्यास कश्यप के बीच कांटे की टक्कर है। इसी तरह हाईप्रोफोइल सीट सक्ती में भी कांग्रेस के डॉ. चरणदास महंत और भाजपा के डॉ. खिलावन साहू के बीच कड़ा मुकाबला है, लेकिन जिस तरह का निष्कर्ष सामने आ रहा है, उससे यही लगता है कि इस सीट पर भी कांग्रेस अपनी जीत सुनिश्चित करेगी। इसी तरह अकलतरा सीट में भाजपा के सौरभ सिंह और कांग्रेस के राघवेन्द्र सिंह आमने सामने है। हालांकि इस सीट में जोगी कांग्रेस से ऋचा जोगी, आम आदमी पार्टी से आनंद प्रकाश मिरी और बसपा से डॉ. विनोद शर्मा भी अच्छी टक्कर दे रहे है, लेकिन जिस तरह के हालात बन रहे हैं, उससे कहा जा सकता है कि इस सीट को भी कांग्रेस जीत सकती है। वर्ष 2018 में हुए चुनाव की तरह ही इस बार भी पामगढ़ और जैजैपुर में बसपा का हाथी कमाल दिखा सकता है। वहीं चंद्रपुर सीट में भाजपा की संयोगिता सिंह जूदेव और कांग्रेस के रामकुमार यादव के बीच दिलचस्प मुकाबला है, लेकिन लोगों के मन को परखने के बाद यहां इस बार कमल खिल सकता है। वर्ष 2018 के चुनाव में इन छह सीटों में से दो सीट पर भाजपा, दो पर कांग्रेस और दो सीट पर बसपा ने जीत दर्ज की थी, लेकिन चौथा स्तंभ न्यूज के एग्जिट पोल में इस बार भाजपा को यहां एक सीट का नुकसान हो सकता है तो वहीं कांग्रेस की एक सीट बढ़ सकती है। इस तरह छह सीटों में से तीन में कांग्रेस, दो सीट मे बसपा और एक सीट भाजपा के खाते में आते दिख रहा है। इसी तरह छत्तीसगढ़ में कांग्रेस 50 से 55 सीट के साथ सरकार बना सकती है। बहरहाल, मतगणना के बाद ही पता चल पाएगा कि कौन किस सीट पर जीतेगा और किसे करना होगा हार का सामना।  

मतगणना के बाद इस तरह बन सकती है स्थिति
सीट                     जीत                     हार
जांजगीर चांपा        कांग्रेस                  भाजपा
अकलतरा             कांग्रेस                  भाजपा
पामगढ़                 बसपा
सक्ती                   कांग्रेस                  भाजपा
जैजैपुर                  बसपा
चंद्रपुर                  भाजपा                  कांग्रेस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *