छत्तीसगढ़जांजगीर-चांपा

श्रीमद भागवत कथा में सर्व श्रेष्ठ देवता पर ब्याख्यान, नेता प्रतिपक्ष डॉ. चरणदास महंत हुए शामिल


सुरेश कुमार यादव-कोसमंदा। गांव के हनुमान चौक चार डबरी पारा में आयोजित श्री मद भागवत महा पुराण कथा ज्ञान के छठवें दिन नेता प्रतिपक्ष डॉ चरणदास महन्त शामिल हुए।

ब्यासपीठ कथा वाचक पंडित मोरध्वज वैष्णव से आशिर्वाद लिया।कथा वाचक पंडित मोरध्वज वैष्णव जी ने बताया कि एक बार ऋषियो में यज्ञ की फल को किस देवता के देना चाहिये इस पर विचार होने लगी ।इसके निर्णय हेतु भृगु ऋषि को चुना गया। इसके लिये उन्होंने सर्वप्रथम ब्रम्हा जी के पास गए तो उन्होंने देखा कि ब्रम्हा जी सरस्वती जी से बाते कर रहे वहाँ से श्राप देकर महादेव जी के पास पहुँचे,वहाँ भी देखा की महादेव जी भी माँ पार्वती जी से बातों में व्यस्त थे वहाँ भी ऋषि ने श्राप देकर बैकुण्ठ लोक की ओर चल दिये वहाँ देखा कि विष्णु जी भी लक्ष्मी से बाते में ब्यस्त थे ऐसे में क्रोध वश भृगु ऋषि ने अपने पैर भगवान विष्णु के छाती में लात मारी।इसके बाउजूद भगवान उस पर क्रोध न करके उन्ही से ही पूछने लगे कि उनके पैरों में चोट तो नही आई।इससे प्रसन्न भृगु ऋषि ने विष्णु जी को सर्व श्रेष्ठ देवता मान लिया। इस अवसर पर गुलजार सिंह ठाकुर,रमेश पैगवर,भगवान दास गढ़ेवाल,राजेश अग्रवाल, संजय रत्नाकर,सुरेश यादव,कमोद खरे,वेद प्रकाश, तुलसी खरे,महेंद्र ,गजाधर कौशिक, सीताराम बरेठ, राधेश्याम बसोर,नंदलाल बसोर,मोहन यादव,ओमकार यादव, संजोग बरेठ, संतोष खरे,गौतम राठोर, नारायण यादव,संजू यादव,खाजू बरेठ,सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *