क्राइमछत्तीसगढ़जांजगीर-चांपाबिलासपुररायपुर

मोबाइल एप्प क्वीक कैश से रहें सावधान, कई लोग इस एप्प के हो चुके हैं शिकार, नई तकनीक के जाल में उलझ जा रहे जानकार लोग भी

जांजगीर-चांपा। इंटरनेट और स्मार्ट फोन के दौर में जहां सुविधा बढ़ी है तो वहीं जरा सी चूक बड़ी परेशानी को पैदा कर सकती है। क्योंकि इंटरनेट पर लुटेरों का बाजार सजा है, जो विभिन्न माध्यमों से लोगों से धोखाधड़ी व ब्लैकमेलिंग के जरिए रुपए ऐंठ रहे हैं। अभी जिले सहित प्रदेश भर में मोबाइल एप्लीकेशन क्वीक कैश के जरिए लोगों के साथ फ्रॉड हो रहा है। जब हमनें इस संबंध में छानबीन की तो जिले के कई लोग इस एप्लीकेशन के जाल में फंस चुके हैं। हालांकि कई लोगों का रुपए डूब चुका है तो वहीं कई लोगों ने इस कंपनी वालों को ही लुटा है।

इस तरह हो रहा फर्जीवाड़ा।


आधुनिकता के इस दौर में खासकर इंटरनेट और स्मार्टफोन की तकनीक से अच्छे से अच्छा शख्स भी कभी कभी उलझकर रह जाता है। ऐसे में जरा सी सावधानी टली, मानों घटना दुर्घटना होना तय है। कुछ इसी तरह का वाक्या अभी एक मोबाइल एप्प क्वीक कैश के जरिए हो रहा है। मोबाइल एप्लीकेशन क्वीक कैश के संबंध में छानबीन करने पर पता चला कि यह आरबीआई से रजिस्टर्ड नहीं है, जिसके चलते यह पूरी तरह फर्जी है। मेरे साथ भी इस एप्प के जरिए इस तरह की घटना होने की संभावना है। इसकी जानकारी तब हुई, जब इस क्वीक एप्प के संबंध में जानकारी जुटाई। मैंने स्थानीय साइबर सेल से भी सलाह लिया, तो उन्होंने सुझाव देते हुए कहा कि यह एप्लीकेशन पूरी तरह से फेक है। साइबर सेल और यूट्यूब के कई वीडियो के मुताबिक, मेरे सभी कांटेक्ट को हैक कर लिया गया है, जो ब्लैकमेलिंग कर सकते हैं। उनके झांसे में नहीं आने पर मोबाइल डेटा का मिसयूज करते हुए मेरे सभी कांटेक्ट के पास कुछ भी मैसेज या फोटो भेजकर मुझे अपमानित करने की कोशिश कर सकते हैं। इसलिए मेरे सभी कांटेक्ट वालों से आग्रह है कि इस तरह अंजान नंबर से मेरे से संबंधित कोई भी मैसेज या फोटो वीडियो मैसेज आता है तो उसे इग्नोर करते हुए संबंधित नंबर को ब्लॉक कर दें। इस संबंध में कुछ लोगों से चर्चा करने पर पता चला कि इस क्वीक एप्प के जरिए कई लोगों ने दो-चार हजार रुपए लेकर उनके ब्लैक मेलिंग के डर से हजारों रुपए लुटाया है। तो वहीं कई लोगों ने उस एप्प वालों को ही लुटा है। यह खबर आप लोगों के लिए इसलिए प्रसारित किया जा रहा है, ताकि आप सभी इस फेक क्वीक एप्प से सावधान रहें और उनके जाल में न फंसे।

क्वीक एप्प को बंद करने की मांग

क्वीक एप्प लगातार लोगों को अपना शिकार बनाते हुए परेशाना पैदा कर रहे हैं। अब तक इस एप्प के जाल में फंसकर कई लोग लुटा चुके हैं तो कई लोगों को इस एप्प ने विभिन्न माध्यमों से परेशान किया है। क्वीक एप्प के शिकार लोगों का कहना है कि ऐसे मोबाइल एप्लीकेशन पर सरकार को तत्काल एक्शन लेते हुए इस पर पूरी तरह से रोक लगा देना चाहिए, ताकि और लोग इसके झांसे में आकर न लुटाएं।

अननॉन सोर्स से न लें एप्प

इस संबंध में जब हमनें साइबर सेल जांजगीर से बात की तो उनका कहना था कि कभी भी अननॉन सोर्स से कोई भी मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड नहीं करना चाहिए। जब कभी भी कोई एप्लीकेशन डाउनलोड करना है तो अधिकृत प्ले स्टोर से ही करना चाहिए। उनका सलाह है कि कोई भी मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करने से पहले उसके संबंध में पहले यूट्यूब में अच्छे से छानबीन कर लेना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *