छत्तीसगढ़जांजगीर-चांपा

कांग्रेस और बसपा समर्पित जिला पंचायत सदस्यों को नहीं मिला लोक महोत्सव का निमंत्रण, उपेक्षा से आक्रोशित कई सदस्यों ने कलेक्टर से शिकायत कर जताई गहरी नाराजगी

जांजगीर-चांपा। जिला मुख्यालय जांजगीर के हाई स्कूल मैदान में 10 फ़रवरी से 12 फ़रवरी तक जाज्वल्य देव लोक महोत्सव एवं एग्रीटेक कृषि मेला आयोजित है, जिसके लिए आयोजन समिति द्वारा आमंत्रण पत्र प्रकाशित करवा कर वितरण किया गया है परन्तु, उक्त आमंत्रण पत्र जिला पंचायत जांजगीर-चांपा के कांग्रेस और बसपा समर्थित सदस्यों को नहीं मिला है, जिससे उनमें गहरी नाराजगी है। इस बात से आक्रोशित कई सदस्यों ने कलेक्टर से शिकायत कर अपनी नाराजगी जाहिर की है।

जिला पंचायत सदस्य राजकुमार साहू ने कहा कि वे कृषि स्थाई समिति के सभापति है किंतु, इस आयोजन के संबंध में उन्हें किसी प्रकार का आमंत्रण पत्र आज तक प्राप्त नहीं हुआ है, जबकि एक दिन बाद यानी 10 फरवरी 2024 से उक्त आयोजन शुरू हो जाएगा। जिला प्रशासन की ओर से अब तक आमंत्रण पत्र नहीं मिलना अत्यंत दुर्भाग्य जनक है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार का उपेक्षा पूर्ण व्यवहार कांग्रेस और बसपा समर्थित जिला पंचायत के सदस्यों के साथ ही हुआ है। कांग्रेस समर्थित उनके साथी सदस्यों को जाज्वल्य देव लोक महोत्सव एवं एग्रीटेक कृषि मेला से संबंधित किसी प्रकार का कोई आमंत्रण पत्र अब तक नहीं मिला है। इस बात की शिकायत हमने कलेक्टर से करते हुए गहरी नाराजगी जताई है। वहीं बसपा समर्थित जिला पंचायत सदस्य लखन साहू ने कहा कि इस आयोजन के संबंध में हमें किसी प्रकार का कोई आमंत्रण पत्र जिला प्रशासन की ओर से नहीं मिला है। इस बात की जानकारी लेने के लिए जब पंचायत विभाग के उपसंचालक अभिमन्यु साहू से मोबाइल के माध्यम से संपर्क किया गया तो उन्होंने गलत व्यवहार किया। उन्होंने कहा कि हम आपके नौकर नहीं, जो आपके आमंत्रण पत्र को आपके घर तक पहुंचाएंगे। आपका आमंत्रण पत्र जनपद पंचायत नवागढ़ के कार्यालय में भिजवा दिया गया है, आप वहां से अपना आमंत्रण पत्र प्राप्त कर लो। जिला पंचायत सदस्य लखन साहू ने कहा कि इस पूरे मामले की जानकारी कलेक्टर आकाश छिकारा को मोबाइल के माध्यम से दी गई है और उन्हें पूरे घटनाक्रम से अवगत भी कराया गया है मगर, निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के प्रति जिला प्रशासन का यह रवैया अत्यंत ही अशोभनीय एवं दुर्भाग्य जनक है। इस संबंध में कलेक्टर से मुलाक़ात कर उनसे और भी विस्तृत चर्चा की जाएगी, ताकि भविष्य में इस तरह की स्थिति निर्मित न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *